Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

महापुरूषों के आदर्शों स्मरण प्रसंग उच्चादर्शों को अपने जीवन में उतारने का संकल्प ले – राज्यपाल श्री पटेल

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

राज्यपाल श्री मंगुभाई पटेल ने कहा है कि महापुरूषों के स्मरणीय प्रसंग उनके उच्चादर्शों को अपने जीवन में उतारने के संकल्प का आयोजन हैं सर्वधर्म प्रार्थना सभा। महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री के जीवन आदर्शों से प्रेरणा लेकर 365 दिन, उनका पालन करना ही उनके प्रति सच्ची और सार्थक श्रद्धांजलि है।

राज्यपाल श्री पटेल आज गांधी भवन में आयोजित सर्वधर्म प्रार्थना सभा के बाद जन सभा को संबोधित कर रहे थे। सभा का आयोजन राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जन्म जयंती के अवसर पर गांधी भवन न्यास द्वारा किया गया था।

राज्यपाल श्री पटेल ने कहा कि महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री की स्मृति में आयोजित कार्यक्रम, उनके जीवन के नैतिक मूल्यों और आदर्शों को समझने, उन्हें अपने जीवन में उतारने का अवसर है। यह एक दिन की औपचारिकता नहीं है। उन्होंने कहा कि गांधी जी का प्रिय “भजन वैण्णव जन तो तेने कहिए जो पीड़ पराई जाने रे” में एक सच्चा, अच्छा मनुष्य कैसा होना चाहिए बताता है।

राज्यपाल श्री पटेल ने कहा कि भजन की हर पंक्ति में उन गुणों की बात कही गई है जो मानवता का आधार है। भजन को गाने के साथ ही उसके भावों को जीवन में उतारने के लिए संकल्पित होना ही गांधी जी को श्रद्धांजलि देना है। उन्होंने कहा कि गांधी जी और शास्त्री जी के जीवन मूल्यों को जीवन में उतार कर बच्चों और भावी पीढ़ी को प्रेरित करना हम सब का दायित्व है। बच्चों को संस्कारित करने की सबसे बड़ी जिम्मेदारी माता-पिता की है। बच्चे उनके कार्य और व्यवहार को देख कर सीखते हैं।

राज्यपाल श्री पटेल ने कार्यक्रम में गांधी जयंती सप्ताह के दौरान 25 सितम्बर से 29 सितम्बर 2023 तक आयोजित “आओ जानें गांधी को” प्रतियोगिताओं के विजयी छात्र-छात्राओं को पुरस्कृत किया। कार्यक्रम में बताया गया कि “पर्यावरण और गांधी” निबन्ध प्रतियोगिता में नवनिध उ.मा. विद्यालय, संत हिरदाराज नगर भोपाल की छात्रा हिमांशी शेवानी को प्रथम, बेबी कान्वेंट उ.मा. विद्यालय भोपाल की छात्रा अदिति तिवारी को द्वितीय और खालसा उ.मा. विद्यालय, भोपाल की छात्रा तानिया सेन को तृतीय पुरस्कार प्राप्त हुआ।

जलवायु परिर्वन चित्रकला विषय पर चित्रकला प्रतियोगिता में खालसा उ.मा. विद्यालय, भोपाल की छात्रा खुशी गुप्ता को प्रथम, रेड रोज उ.मा.वि., करोंद भोपाल के छात्र देवनारायण को द्वितीय, नवनिध उ.मा. विद्यालय, संत हिरदाराज नगर भोपाल की छात्रा खुशी भट्ट को तृतीय पुरस्कार मिला है। बापू के प्रेरक प्रसंग प्रतियोगिता में स्कॉलर होम पब्लिक स्कूल, भोपाल की छात्रा सना खान को प्रथम, खालसा, उ.मा. विद्यालय, भोपाल के छात्र भुवनेश मकोरिया को द्वितीय, बेबी कान्वेंट उ.मा. विद्यालय भोपाल की छात्रा तैयब्बा को तृतीय पुरस्कार मिला है। बापू के प्रिय भजन प्रतियोगिता में जवाहर लाल नेहरू, उ.मा.वि, भेल, भोपाल के छात्र वंश समैय्या को प्रथम, रेड रोज उ.मा.वि. सिंधी कॉलोनी, भोपाल के छात्र अब्दुल्ला आरिफ को द्वितीय, कॉर्मल कॉन्वेंट उ.मा.वि. भोपाल की छात्र नवनी श्रीवास्तव को तृतीय पुरस्कार तथा देश भक्ति समूह गीत प्रतियोगिता में रेड रोज उ.मा.वि. सिंधी कॉलोनी, भोपाल को प्रथम, जवाहर लाल नेहरू, उ.मा. वि. भेल भोपाल को द्वितीय, कमला नेहरू उ.मा.वि. भोपाल को तृतीय पुरस्कार प्राप्त हुआ है।

राज्यपाल श्री मंगुभाई पटेल ने गांधी भवन पहुँचने पर महात्मा गांधी की प्रतिमा पर सूत की माला चढ़ाकर पुष्प अर्पित कर श्रंद्धाजलि अर्पित की। चित्र प्रदर्शनी का अवलोकन किया। गांधी जी के स्मारक पर जाकर उनको नमन किया।

श्री पटेल ने सर्वधर्म प्रार्थना सभा, गांधी जी के प्रिय भजन “वैण्णव जन तो तेने कहिए” और “रघुपति राघव राजाराम” गायन में शामिल हुए। कार्यक्रम में गांधी जी की आवाज में उनके संदेश का प्रसारण किया गया। राज्यपाल को न्यास की ओर से चरखा भेंट किया गया। आभार प्रदर्शन गांधी भवन ट्रस्ट के न्यासी श्री राजेश बादल ने किया।

Leave a Comment

  • UPSE Coaching
What does "money" mean to you?
  • Add your answer